10 हजार रुपये से खड़ी कर दी 44 हजार करोड़ की कंपनी |44 thousand crores made from 10 thousand rupees

 

कहते हैं की इंसान अगर कुछ करने की सोच ले और उस सोच पर कठिन परिश्रम और लगन के साथ काम करना शुरू कर दे तो अपने मुकाम को एक दिन जरूर हासिल कर लेता है । फिर चाहे जीवन में लाख मुसीबत आये या जीवन में कितने भी उतार चढाव आये, इंसान अपने मंजिल को एक ना एक दिन प्राप्त कर ही लेता है ।
दोस्तों यहाँ हम बात कर रहे हैं ”Havells India” के मालिक “कीमत राय गुप्ता” की जिन्होंने “10 हजार रुपये से 44000” करोड़ की कंपनी खड़ी कर दी।

दोस्तों “कीमत राय गुप्ता” का जन्म 24 जनवरी 1937 को पंजाब प्रान्त में हुआ था , वे पेशे से एक अध्यापक थे और पंजाब के ही एक स्कूल में अध्यापन का कार्य करते थे । लेकिन कीमत राय गुप्ता अपने इस काम से संतुष्ट नहीं थे, क्योंकि उनकी सोच हमेशा से एक बड़े “Business Man” बनने की थी । इसी सोच के साथ कीमत राय गुप्ता 1958 में अपने घर से 10000 रुपये लेकर दिल्ली चले आये ,और पुरानी दिल्ली में उन्होंने एक “Electrical Goods Trading Company” बनाई और कुछ वर्षों तक काम किया और अच्छी खासी कमाई की । लेकिन उनका दिमाग हमेशा कुछ बड़ा करने की सोचता था , वे कुछ अलग करना चाहते थे । फिर एक दिन उनके दिमाग में अपनी खुद की कंपनी बनाने का विचार आया ।

Havells इंडिया का सफ़र (Journey Of Havells India):-

उन दिनों “हवेली राम गुप्ता” की कंपनी “Havells” मुश्किलों से गुजर रही थी , उस समय “कीमत राय गुप्ता” को लगा कि वे उस कंपनी की तक़दीर बदल सकते हैं और इसी सोच के साथ उन्होंने 1971 में करीब 7 लाख रुपये लगाकर “कीमत राय गुप्ता” ने “Havells” को खरीद लिया और फिर शुरू हुई “Havells” की नई यात्रा , कीमत राय गुप्ता दिन रात लगातार मेहनत करने लगे “Havells” को ऊपर उठाने में , और आख़िरकार उनकी मेहनत रंग लाई और “Havells” अपनी मुश्किल दौर से बाहर आ गया , फिर कीमत राय गुप्ता के अथक प्रयास से “Havells India” बुलंदियों को छूने लगी । और “Havells” ने Circuit Protection , Cable And Wires , Motor Fans , Moduler Switch , Home Appliances , Electric Water Heaters , Power Capacitors , CFL Lamps , के घरेलु बाज़ार में अपनी धाक जमा ली। और देखते देखते “Havells” का नाम पुरे भारत में फ़ैल गया , पुरे भारत में अपनी धाक ज़माने के बाद “Havells” ने अपने कारोबार को विदेशी बाजार की ओर ले जाने का निर्णय लिया , और इसी निर्णय के साथ “कीमत राय गुप्ता” ने 2007 में अपनी कंपनी के आकर के डेढ़ गुना बड़ी कंपनी “Sylvania” को खरीद लिया।उस समय “Sylvania” दुनिया की चौथी सबसे बड़ी Lighting Company थी
इस अधिग्रहण के बाद “Havells” ने दुनिया की 5 सबसे बड़ी “Lighting Companies” में अपनी जगह बना लिया । लेकिन उसके एक साल बाद आर्थिक तंगी ने “Sylvania” के लिए बड़ी मुश्किल कड़ी कर दी , लेकिन कीमत राय गुप्ता ने “Sylvania” को उस मुश्किल दौर से बाहर निकलने के लिए अपनी ताक़त लगा दी | कीमत राय गुप्ता की कोशिशों ने अपना रंग दिखाया और “Sylvania” मुश्किलों से उबर गई।
फिर उसी दौरान 7 नवंबर 2014 को एक दिन “कीमत राय” गुप्ता का निधन हो गया , उनकी मृत्यु के बाद कीमत राय गुप्ता के बेटे अनिल गुप्ता ने कंपनी की कमान संभाली, “अनिल गुप्ता” “Havells India” के  “Chief Managing Director (CMD)”भी हैं
  “कीमत राय गुप्ता के जीवन में काफी उतर चढाव आये लेकिन उन्होंने कभी हिम्मत नहीं हारी , उसी की देन है कि “Havells” दुनिया की 5 सबसे बड़ी “Lighting Companies” में अपनी जगह बना चुकी है। और इसी के साथ “Havells India” की टोटल नेटवर्थ 44 हजार करोड़ से ज्यादा की हो चुकी है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *